नई दिल्‍ली, एएनआइ। Chief of the Indian Air Force भारतीय वायुसेना प्रमुख का पदभार संभालते ही एयर मार्शल राकेश कुमार भदौरिया ने सोमवार को पाकिस्‍तान के लिए चेतावनी भरे लहजे का इस्‍तेमाल किया। उन्‍होंने कहा, ‘हम किसी भी खतरे व चुनौती से लड़ने को तैयार हैं।’

पाकिस्‍तान के प्रधानमंत्री इमरान खान की ओर से न्‍यूक्‍लियर वॉर की चेतावनी पर उन्‍होंने कहा, ‘न्‍यूक्‍लियर संबंधित मामलों की उनकी यही समझ है। हमारी अपनी समझ, अपना विश्‍लेषण है। किसी भी चुनौती का सामना करने को हम तैयार हैं।’

भविष्य में बालाकोट स्ट्राइक जैसे हमले की संभावना पूछे जाने पर एयरचीफ मार्शल आरकेएस भदौरिया ने कहा, ‘हम तब भी तैयार थे, हम आगे भी तैयार रहेंगे। किसी तरह की चुनौती और खतरे से निपटने के लिए हम तैयार हैं।’ उन्होंने बताया कि पाकिस्तान फिर से बालाकोट आतंकी शिविरों को तैयार कर रहा है। हम इससे अवगत हैं और आवश्यकता पड़ने पर जरूरी कार्रवाई की जाएगी।

भारतीय वायुसेना प्रमुख के पद की कमान सोमवार को एयर मार्शल राकेश कुमार भदौरिया ने संभाल ली। इस पद से आज रिटायर हुए बीएस धनोआ की जगह उनका चयन किया गया है। रिटायरमेंट से पहले धनोआ नेशनल वॉर मेमोरियल गए और श्रद्धांजलि अर्पित की। एयर मार्शल भदौरिया भी 30 सितंबर को रिटायर होने वाले थे। लेकिन अब वह वायुसेना प्रमुख पद पर नियुक्त किए गए हैं तो माना जा रहा है अगले दो साल तक वह इस पद पर रहेंगे।

बता दें कि केंद्र सरकार ने एयर मार्शल आरकेएस भदौरिया को अगला वायु सेना अध्यक्ष चुना है।  उन्होंने जून 1980 में आईएएफ के फाइटर स्ट्रीम में कमीशन प्राप्त किया था, जिसके बाद वायु सेना में विभिन्न प्रमुख पदों पर वह जिम्मेदारी संभाल चुके हैं।

एयर मार्शल राकेश कुमार सिंह भदौरिया ने 12 जुलाई को फ्रांस में ट्रायल के तौर पर राफेल लड़ाकू विमान में उड़ान भरी थी और विमान की जांच भी की थी। इसके बाद उन्होंने कहा था कि राफेल देश की सेना के लिए बेहद अहम है।

Live Cricket Live Share Market