मैसूर, एएनआइ। कर्नाटक के मैसूर में नवरात्रि और नड्डा हब्‍बा दशहरा समारोह की शुरुआत रविवार को हो गई। इसके साथ ही यहां के शाही परिवार के उत्‍तराधिकारी यदुवीर कृष्‍णदत्‍त चमराजा वाडियार ने पूजा-अर्चना की और परंपरा का निर्वहन करते हुए मैसूर महल में खास दरबार लगाया।

बता दें कि इस दरबार में यदुवीर सोने के सिंहासन पर आसीन होते हैं और उनके दरबारी भी पूरी शान के साथ यहां आते हैं। वर्ष 2013 में मैसूर के राजा श्रीकांतदत्त वाडियार का हार्ट अटैक से निधन हो गया था। नि:संतान होने की वजह से उनकी पत्नी प्रमोददेवी ने यदुवीर को गोद लिया था। उत्तराधिकारी बनने के बाद यदुवीर का नाम बदलकर यदुवीर कृष्णदात्ता चामराज वडियार रखा गया।

Live Cricket Live Share Market